विश्व के प्रमुख जलसंधियों के बारे में रोचक तथ्य | General Knowledge About Strait Of The World

13 / 100

जलसंधि किसे कहते हैं?

दोस्तों आप सभी ने कुछ ऐसे जगहों के बारे में सुना होगा जो दो बड़े जल के समूहों को एक संकरे रास्ते से जोड़ता हो और उसमे से जलमार्ग द्वारा आवागमन होता हो? जी आज हम विश्व के कुछ ऐसे ही प्रमुख जगहों के बारे में आपको बताने आये हैं जिन्हे जलसंधि (Strait) कहा जाता है।अधिकतर जलसन्धियों का भौगोलिक आकर डमरू जैसा होता है जिसके दो बड़े भागों के मध्य जलसंधि होती है इसलिए इसे जलडमरूमध्य भी कहा जाता है। चलिए आज हम विश्व के प्रमुख जलसन्धियों की जानकारी उपलब्ध कराते हैं।

ये भी पढ़िए बन्दर और मगमच्छ की कहानी

विश्व के कुछ प्रमुख जलसंधियाँ

  • मलक्का जलसंधि – यह अंदमान सागर और चीन सागर को जोड़ती है। यह जलसंधि इंडोनेशिया और मलेशिया के बीच स्थित है। इसकी लम्बाई 805 किलोमीटर और गहराई सिर्फ 25 मीटर है।
  • पाक जलसंधि – यह पाक खाड़ी (Palk Bay) और बंगले की खाड़ी को जोड़ती है। यह जलसंधि भारत और श्रीलंका के बीच स्थित है। इसकी चौड़ाई 53-80 किलोमीटर है।
  • ओरब्टो जलसंधि – यह जलसंधि एड्रियाटिक सागर और आयोनियम सागर को जोड़ती है। यह इटली और अल्बानिया के बीच स्थित है।
  • मेसिना जलसंधि – यह जलसंधि भूमध्य सागर में इटली और सिसली द्वीप के मध्य में स्थित है।
  • सुंडा जलसंधि – यह जावा सागर और हिंदी महासागर को जोड़ती है। यह इंडोनेशिया में स्थित है। इसकी चौड़ाई 24 किलोमीटर है और गहराई 20 मीटर।
  • यूकाटन जलसंधि – मेक्सिको की खाड़ी और कैरेबियन सागर को जोड़ती है।  यहाँ मेक्सिको और क्यूबा के मध्य स्थित है।

ये भी पढ़िए – ब्राम्हण और सर्प की कहानी

  • कुक जल संधि – यह दक्षिण प्रशांत महासागर में स्थित है और यह नूज़ीलैण्ड में उत्तरी और दक्षिणी द्वीप के मध्य स्थित है।
  • बाब-अल-मदेब –  यहाँ लाल सागर और अदन की खाड़ी को जोड़ती है और यमन और जिबूती में स्थित है। इसकी चौड़ाई 30 किलोमीटर है और करीब 310 मीटर गहरा है।
  • मोजाम्बिक चैनल – यह हिन्द महासागर में मोजाम्बिक और मलागासी के मध्य स्थित है। इसकी चौड़ाई 400 किलोमीटर है।
  • टॉरस जलसंधि – यहाँ अराफुरा सागर और पापुआ की खाड़ी को जोड़ती है।  यहाँ पापुआ न्यू गिनी और ऑस्ट्रेलिया के बीच स्थित है। इसकी चौड़ाई 150 किलोमीटर है और गहराई 15 मीटर है।
  • नॉर्थ चैनल – यह आयरिश सागर और अटलांटिक सागर को जोड़ती है जो आयरलैंड और इंग्लैंड के स्थित है। इसकी चौड़ाई 21 किलोमीटर है।

ये भी पढ़िए – मुर्ख साधु और ठग की कहानी

  • बेरिंग जलसंधि – यहाँ बेरिंग सागर और चुक्सी सागर को जोड़ती है और अलास्का और रूस के मध्य स्थित है।
  • बायस जलसंधि – यह तस्मान सागर और दक्षिण सागर को जोड़ती है और तस्मान सागर और दक्षिण सागर के मध्य स्थित है।
  • बोनी फैसियो – यह भूमध्य सागर में कोर्सिका और सार्डिनिया के बीच स्थित है।
  • बास्पोरस जलसंधि – यह काला सागर और मरमरा सागर जो जोड़ती है और तुर्की में स्थित है।
  • दरडेणलेज जलसंधि – यह मरमरा सागर और एजियन सागर को जोड़ती है और तुर्की में स्थित है।
  • डेविस जलसंधि – यह बेफ़िन की खाड़ी और अटलांटिक सागर को जोड़ती है और यह ग्रीनलैंड और कनाडा के मध्य स्थित है।

ये भी पढ़िए – सुनहरे गोबर की कहानी

  • डेनमार्क जलसंधि – यह जलसंधि उत्तरी अटलांटिक और आर्कटिक महासागर को जोड़ती है और ग्रीनलैंड और आइसलैंड के मध्य स्थित है।
  • दोबार जलसंधि – यह इंग्लिश चैनल और उत्तरी सागर को जोड़ती है और इंग्लैंड और फ्रांस में मध्य स्थित है।
  • फ्लोरिडा जलसंधि – यह मक्सिक्सो की खाड़ी और अटलांटिक महासागर को जोड़ती है।  यहाँ जलसंधि संयुक्त राज्य अमेरिका और क्यूबा के मध्य स्थित है।
  • हॉरमुज जलसंधि – यह जलसंधि फसस की खाड़ी और ओमान की खाड़ी को जोड़ती है और ओमान और ईरान के मध्य स्थित है।
  • हडसन जलसंधि – यह हडसन की खाड़ी और अटलांटिक महासागर को जोड़ती है। यहाँ जलसंधि कनाडा में स्थित है।
  • जिब्राल्टर जलसंधि – यह जलसंधि भूमध्य सागर और अटलांटिक महासागर को जोड़ती है और स्पेन और मोरक्को के बीच स्थित है।

ये भी पढ़िए – तीन मछलियों की कहानी

  • मैगलन जलसंधि – यह प्रशांत और दक्षिण अटलांटिक महासागर को जोड़ती है और चिली में स्थित है।
  • मकासार जलसंधि – यह जलसंधि जावा सागर और सैलिबीज सागर को जोड़ती है और इंडोनेशिया में स्थित है।
  • सुंगारु जलसंधि – यहाँ जापान सागर और प्रशांत महासागर को जोड़ती है और जापान के होकेडो और होन्शु द्वीप में मध्य स्थित है।
  • तातार जलसंधि – यह जलसंधि जापान सागर और ओखोटस्क सागर को जोड़ती है और रूस के पूर्वी और साखालीन द्वीप के मध्य स्थित है।  
  • फोवेक्स जलसंधि – यहाँ दक्षिणी प्रशांत महारसागर में स्थित है और नूज़ीलैण्ड के दक्षिणी और स्टीवार्ट द्वीप में बीच स्थित है।
  • फार्मोसा जलसंधि – दक्षिणी चीन सागर और पूर्वी चीन सागर को जोड़ती है। यह जलसंधि चीन और ताइवान के मध्य स्थित है।

ये भी पढ़िए – शेर और चतुर खरगोश की कहानी

Please follow and like us:

Nice1-Story

I'm Yogendra Kumar. I have started writing since July, 2020. I like blogging, sharing and writing about the positivity of the world. You can find here Best Motivational Quotes, Success Story, Inspirational Quotes, Biography, Life Inspiring Quotes, Ethics Story, Life Changing Quotes, Motivational Story,Positive Thinking Quotes, Inspirational Story, Success Mantra, Self Development Quotes, Dharma, Home Cure Tips.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This Post Has 2 Comments

  1. Risa

    risarecipes.blogspot.com visit my site ☺